इलाहाबादी अड्डा

नमस्‍कार मित्रों
आपका सब का इलाहाबादी अड़डा में स्‍वागत है
इलाहाबाद से जुड़े लोगों को यहां की नस नस में बसे अड़डा संस्‍कति के बारे में बताने की जरूरत नहीं है वो अपने आप ही इसे सांस के साथ जीते हैं और उसे इस्‍तेमाल करते हैं।

20 Response to "इलाहाबादी अड्डा"

  1. शुरूवात तो कीजिए बैठकी में हम भी भाग लेगें।

    हिमांशू,
    इलाहाबाद से एक और ब्लॉगर को देख कर अच्छा लगा
    आपका स्वागत है
    प्रमेन्द्र जी तो पहले ही कमेन्ट कर चुके है :)
    वीनस केसरी
    मुट्ठीगंज इलाहाबाद

    फालोअर लिंक लगा दीजिये जिससे आपको पढना आसान हो जाये
    वीनस केसरी

    woyaadein says:

    ब्लॉगजगत में आपका स्वागत है.....लिखते रहिये......

    साभार
    हमसफ़र यादों का.......

    अड्डेबाजी करने हम भी आया करेंगे जी। जब अड्डा जम जाएगा तो आदरणीय ज्ञान जी को बुलाकर चौचक चर्चा की जाएगी।

    एक इलाहाबादी अ‍उर आइस। स्वागत है। अड्डा नेट के बाहर भी आये के चाही।

    हिमांशु जी ,
    आपका ब्लाग जगत में स्वागत है।लेकिन ये तो बताइये --अड्डा लगेगा कहां?मिन्टो पार्क,दारागंज,हिन्दी साहित्य सम्मेलन,युनिवर्सिटी रोड--या फ़िर प्रयाग स्टेशन तिराहे पर मामा की चाय की दूकान पर?कहीं भी लगे अड्डा--एक आवाज लगाइयेगा --पहुंच जाऊंगा।
    हेमन्त कुमार

    ham to aapki najaron se dekhenge,aapke kano se sunege.narayan narayan

    ब्लॉगजगत में आपका स्वागत है....

    RAJ SINH says:

    भैय्या हमहूँ हैं लगे लाईन मा .गुरु होई जाओ शुरू . हम आठ हजार मील दूर हैं तो का . नेट की अड्डेबाजी खातिर कौनौ टिकट थोड़े कटवाउब . फोकट माँ हाज़िर रहब . तुम्हार लकी सुलाखी सब उप्पर से बची बचाई . जीते रहो !

    गुरु लगल रहा
    तोहरे ब्लोग पर एगो कमी खलल वु ह flower क
    हम बनारस से हई

    आपका अड्डा अच्छा लगा

    बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

    aare ! main bhi kuch din illahabaad me rahi hoon ,karnal ganj me kotwaali ke paas !.aapke blog ne apno ki yaad dila di jo un dino hame parivaar se lage . aapka bahut bahut swagat hai ji ...:)

    आप की रचना प्रशंसा के योग्य है . आशा है आप अपने विचारो से हिंदी जगत को बहुत आगे ले जायंगे
    लिखते रहिये
    चिटठा जगत मे आप का स्वागत है
    गार्गी

    ब्लॉगर जगत में आपका स्वागत है।
    -Zakir Ali ‘Rajnish’
    { Secretary-TSALIIM & SBAI }

    आप सभी लोगों को शुक्रिया
    उम्‍मीद है अड्डे पर बैठकी जबर्दस्‍त रहेगी

    It's so good to see you here..keep it up..west wishes Himanshu ji.

    SUMAN says:

    himanshuji,orkut par bhatkte hue badi dur jharkhand ki ek mitra ke account se aapko paya dekh kar maza aaya ki babu sab allahabadi hain..adda dhund kar nikala to aur maza aaya..actuly ADDA shabd ka to mail hi allahabad jaise shahar se hai..aankhon ke samne loknath,a.g. office,univercity road aur bahut se adde dikhne lagte hain..zarurat ho to ham alpgyani bhi achhe addebaz sabit hote hain..kabhi yad kijiyega..abhinabdan hai aapka...

    SUMAN says:

    himanshuji,orkut par bhatkte hue badi dur jharkhand ki ek mitra ke account se aapko paya dekh kar maza aaya ki babu sab allahabadi hain..adda dhund kar nikala to aur maza aaya..actuly ADDA shabd ka to mail hi allahabad jaise shahar se hai..aankhon ke samne loknath,a.g. office,univercity road aur bahut se adde dikhne lagte hain..zarurat ho to ham alpgyani bhi achhe addebaz sabit hote hain..kabhi yad kijiyega..abhinabdan hai aapka...

Powered by Blogger